Logo

IAS Yasharth Shekhar’s Success Story, दो बार असफल होने के बाद भी नहीं मानी हार, तीसरी कोशिश ने बनाया IAS


IAS Yasharth Shekhar ने तीसरे प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा पास की। दो बार असफल होने के बाद भी उन्होंने कड़ी मेहनत करने में कभी संकोच नहीं किया और इंडिया 12 वी रैंक प्राप्त की

हमारे देश ही नहीं बल्कि दुनिया का सबसे कठिन एग्जाम यूपीएससी में सफल होना कोई आसान बात नहीं है। यह उपलब्धि हासिल करने वालों की कड़ी मेहनत की कहानी छात्रों के लिए प्रेरणा है।

IAS यशार्थ शेखर, उत्तर प्रदेश के रहने वाले हैं। वह बचपन से ही बहुत मेधावी थे। उन्होंने 10वीं और 12वीं की परीक्षा में शानदार अंक हासिल किया। ग्रेजुएशन के बाद उन्होंने आईएएस अधिकारी बनने के लिए यूपीएससी परीक्षा की तैयारी शुरू की।

यशार्थ शेखर हमीरपुर के मौदहा इलाके में रहते थे और वर्तमान में उनका परिवार वसुंधरा, गाजियाबाद में रहता है। उनके पिता लल्लू सिंह बलरामपुर में जिला जज के पद पर नियुक्त हैं। उनकी मां शांति सिंह गृहिणी हैं।

यशार्थ शेखर तीन बहन-भाईयों में सबसे बड़े हैं। उनके माता पिता ने शुरू से ही उन्हें ऐसा माहौल मिला जिसमे वो कठिन अध्ययन करने के लिए प्रोत्साहित हुए

यशार्थ ने लखनऊ से हाईस्कूल की परीक्षा 96 प्रतिशत अंकों से पास की है। इसके बाद इंटरमीडिएट की परीक्षा 99 फीसदी अंकों के साथ पास करने के बाद आगे की पढ़ाई के लिए दिल्ली चले गए। उन्होंने BA किया।

आईएएस यशार्थ शेखर ने तीसरे प्रयास में यूपीएससी की परीक्षा पास की। दो बार असफल होने के बाद भी उन्होंने कड़ी मेहनत करने में कभी संकोच नहीं किया और ऑल इंडिया की 12 वी रैंक हासिल की।

आप को बता दें यशार्थ शेखर यूपीएससी में कुल 1025 अंक हासिल किए थे। उन्होंने अपनी मार्कशीट सोशल मीडिया साइट इंस्टाग्राम पर शेयर की। यशार्थ ने इंटरव्यू में 162 अंक हासिल किए। उन्होंने लिखित परीक्षा में कुल 863 अंक हासिल किए थे।

Leave A Reply

Your email address will not be published.